Advertisement

दिल्ली एमसीडी चुनाव टल जाने की वजह से दिल्ली की सत्तापक्ष पार्टी “आम आदमी पार्टी” ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाज़ा खटखटाया है।
आम आदमी पार्टी ने सुप्रीम कोर्ट में ये दावा किया है की, केंद्र सरकार दिल्ली में अपनी मनमानी चला रही है और एमसीडी चुनाव को टाल रही है क्योंकि बीजेपी को हार का डर है, सुप्रीम कोर्ट से जल्द से जल्द से मामले में संज्ञान लेने का भी आग्रह किया है।


दिल्ली एमसीडी में बीजेपी पिछले 23 से एमसीडी की सत्ता पर काबिज है, लेकिन अब केंद्र सरकार ये चाहती है नॉर्थ,साउथ और ईस्ट निगम को एक कर दिया जाए जिससे नॉर्थ एमसीडी के कर्मचारियों को परेशानी न हो और जनता को अलग अलग दफ्तरों का दरवाजा खटखटाना पड़े।
और इस को लेकर बीजेपी के बड़े पद अधिकारी और निगम के पार्षदों के साथ अमित शाह आने वाले दिनों में मीटिंग करेंगे और पूरी स्तिथि का ज्याजा लेंगे।
एमसीडी के एकीकारण के बाद केंद्र एमसीडी में परिसीमन भी कर सकता है।

कब हुए थे एमसीडी के तीन भाग ?
एमसीडी के तीन भाग कांग्रेस जब सत्ता में थी 2012 में तो दिल्ली की तब की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने इसको 3 भाग में बांटा था जिसका दुष्परिणाम दिल्ली की जनता आज तक भुगत रही है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here