Advertisement

गुजरात कैडर की तेज तर्रार IPS अधिकारी सरोज कुमारी के घर ख़ुशी मनाने का दोगुना मौका है. सरोज कुमारी ने एक साथ जुड़वा बच्चों को जन्म दिया है. इनमे से एक बेटा और एक बेटी है. इस बात की जानकारी खुद IPS सरोज कुमारी ने अपने फेसबुक अकाउंट पर शेयर करके दी है

IPS ने नवजात बच्चों की तस्वीरें की शेयर

IPS अधिकारी सरोज कुमारी ने अपने दोनों नवजात बच्चों की फोटो शेयर करते हुए लिखा कि भगवान ने आशीर्वाद स्वरूप बेटा-बेटी दिए हैं. सरोज कुमारी द्वारा शेयर की गई अपनी पहली संतान की यह तस्वीर सोशल मीडिया पर काफी तेज़ी से वायरल हो रही है. अब लोग उन्हें बधाइयाँ दे रहे है.

सरोज कुमारी राजस्थान की बेटी हैं

गुजरात पुलिस में अपनी सेवा दे रही IPS अधिकारी और राजस्थान की बेटी सरोज कुमारी के घर इस समय खुशियों का माहौल है. अक्सर वर्दी में सभी को दिखने वाली यह आईपीएस बच्चों के जन्म के मौके पर अपनी ग्रामीण पृष्ठभूमि को नहीं भूलीं. वह बच्चों को जन्म देने के बाद अपनी पारंपरिक ग्रामीण महिलाओं की वेशभूषा लहंगा चुनरी में नजर आई.

डॉक्टर मनीष सैनी से हुई IPS सरोज कुमारी की शादी

IPS सरोज कुमारी का विवाह दिल्ली के जाने-माने डॉक्टर मनीष सैनी से हुआ है. डॉ. मनीष सैनी व IPS सरोज कुमारी ने वर्ष 2019 के जून में शादी की थी. सरोज कुमारी के पति डॉक्टर मनीष सैनी ने भी अपने इन नवजात बच्चों की तस्वीरें शेयर की हैं.

सरकारी स्कूल में पढ़ी है IPS सरोज कुमारी

IPS सरोज कुमारी का जीवन उन लोगों के लिए मिसाल है जो ये सोचते है कि, सरकारी स्कूलों में पढ़कर कुछ नहीं किया जा सकता. आईपीएस सरोज कुमारी ने अपनी शुरुआती पढ़ाई गांव बुडानिया के सरकारी स्कूल से पूरी की. वह वर्ष 2011 बैच की IPS अधिकारी हैं. इसके साथ ही वह इकलौती IPS अधिकारी हैं, जो माउंट एवरेस्ट फतह करने के मिशन में शामिल हुई थी.

सरोज कुमारी को मिला है कोविड-19 महिला योद्धा का अवार्ड

महिला IPS अधिकारी सरोज कुमारी को कोरोना महामारी के दौरान उनके किए गए कार्यों के लिए कोविड-19 महिला योद्धा का अवार्ड भी मिला है. उन्होंने लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंद लोगों को खाना देने के लिए साथी महिला पुलिसकर्मियों के साथ मिलकर पुलिस रसोई शुरू की थी. इस दौरान लॉकडाउन में रोजाना छह सौ लोगों तक भोजन पहुंचाया गया था.

मुन्नवर फारुकी ने रख दिया Anjuli Arora के सिने पर हाथ, कर दिया गलत काम

गुजरात पुलिस की आईपीएस अधिकारी सरोज कुमारी ने अपने किये काम से अपनी पहचान बनाई है. जब वह बोटाद SP थीं तब कई महिलाओं को उन्होंने जिस्म फरोशी के जाल से बचाया था. वहीं वडोदरा में बारिश के दौरान लोगों को रेस्क्यू करते हुए भी इनकी तस्वीरें काफी वायरल हुईं थी.

अपने गाँव से वह पहली महिला IPS है

IPS सरोज कुमारी के भाई व पूर्व सरपंच रणधीर सिंह बुडानिया ने जानकारी देते हुए बताया कि, उनकी बहन उनके गांव से पहली महिला IPS अधिकारी हैं. इन दोनों बच्चों का जन्म करीब दो महीने पहले हुआ है. वह स्वास्थ्य कारणों से अस्पताल में भर्ती थे. उन्हें चार-पांच दिन पहले ही अस्पताल से छुट्टी कर लाया गया है.

बता दें कि, IPS सरोज कुमारी का जन्म राजस्थान के झुंझुनूं जिले के चिड़ावा उपखंड के गांव बुडानिया में बनवारी लाल मेघवाल व सेवा देवी के घर हुआ है. वह वर्तमान में सूरत DSP के पद पर अपनी सेवाएं दे रही हैं. वह बोटाद जिले में SP भी रह चुकी हैं

[DISCLAIMER: यह आर्टिकल कई वेबसाइट से म‍िली जानकार‍ियों के आधार पर बनाई गई है. Vartmaan Bharat News अपनी तरफ से इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है]

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here