Advertisement

देश में हाल ही में पेट्रोल डीजल की कीमतों में भारी गिरावट आई है, देश की केंद्र सरकार ने दोनो पेट्रोल और डीजल पर एक्सरसाइज ड्यूटी घटाई है जिससे आम जनता ने काफी राहत की सास ली है क्युकी पेट्रोल और डीजल के दाम आसमान छू रहे थे जिससे आम जनता के मन में आक्रोश का भाव था लेकिन मोदी सरकार ने जनता की बात मानते हुए रेट को घटाया।

क्या सिर्फ मोदी सरकार ने रेट घटाए ?

देश के अधिकतर राज्यों में आज बीजेपी की सरकार है, जहां पर राज्य की बीजेपी सरकारों ने भी VAT में कटौती की है, उत्तर प्रदेश में तो पेट्रोल व डीज़ल दोनो पर भारी गिरावट की है, दोनो पर 12 – 12 रुपए कम किए ऐसे ही अन्य बीजेपी शासित राज्य में भी हुआ, सभी जगह कोशिश की गई की पेट्रोल को 95 के पास तक लगा का सके जिसमे अधिकतर बीजेपी शासित राज्यों की सरकारें सफल रही।

कांग्रेस ने फिर खेली जनता को लूटने की चाल ?

देश में अब सिर्फ चुनिंदा राज्यों में बस कॉन्ग्रेस पार्टी की सरकार बची हैं, पंजाब, राजस्थान और छत्तीसगढ़ वैसे गठबंधन तो महाराष्ट्र में भी है पर राहुल गांधी पहले ही साफ कर चुके है स्टीयरिंग पर शिव सेना तो कांग्रेस कोई दखल अंदाजी नहीं करेगी। कांग्रेस की राजस्थान सरकार ने देश की जनता के साथ किया धोका पर पेट्रोल आज देश में सबसे महंगा बेच रही है 116 रुपए लीटर।

कांग्रेसी सीएम अखबारों में प्रचार की लड़ाई में भिड़ गए !


पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने जनता की परेशानी को देखते हुए पेट्रोल व डीजल की कीमतों में कटौती की है, जबकि इसी बात का अखबारों में विज्ञापन भी दिया जिसमे साफ दिख रहा है की राजस्थान से भी सस्ता पेट्रोल व डीजल पंजाब में है तो ऐसे ही कांग्रेस सरकार को पंजाब में चुने, जबकि उन्हे पता होगा कि कांग्रेस तो राजस्थान में भी पूर्ण बहुमत कि सरकार में ही पर राजस्थान के मुख्यमंत्री ने साफ कहा था कि राजस्थान पेट्रोल के दाम में कटौती बिलकुल नहीं करेगा।
तो ये दोनो मुख्यमंत्री आपस में एक दूसरे की फिरकी भी ले रहे है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here